7 तारीख बाद धार्मिक स्थलों को लेकर गाइडलाइन जारी


अतिरिक्त जिला कलेक्टर जयप्रकाश ने बताया कि भारत सरकार की गाईड लाईन जारी होने के बाद गृह विभाग राजस्थान सरकार द्वारा भी गाईड लाईन जारी की गई है। उसके तहत विशेष रूप से धार्मिक संस्थानों को खोलने के संबंध में निर्देश  दिये गये है। निर्देशों के अनुसार 7 सितम्बर 2020  के बाद में उनके संबंध में निर्णय किया जा सकता है।  उन्होंने बताया कि सोमवार को जिला प्रशासन ने जिले के सबसे बड़े  दो धार्मिक स्थान खाटूश्यामजी मंदिर, जीणमाताजी मंदिर के प्रबंधक और पुजारी को बुलाकर बैठक की और जब भी धार्मिक स्थान खुलेंगे तब 4 जून 2020 को भारत सरकार द्वारा गाईड लाईन जारी की गई है उसकी पालना करना बहुत जरूरी होगा जिसमें महत्वपूर्ण बात यह होगी की  65  साल से ज्यादा वर्ष के व्यक्ति, पुराने रोगों एवं सःरूग्णता  परिस्थतियों से पीड़ित  व्यक्ति, गर्भवती महिलाएं तथा 10 वर्ष से कम आयु के बच्चे है वो धार्मिक स्थानों पर नहीं आयें,  दो व्यक्तियों के बीच में 2 गज की दूरी रखें तथा मास्क होना जरूरी है। जहां भी प्रवेश द्वार होगा वहां पर हाथ धोने व  सैनेटाईजर करने की व्यवस्था करनी होगी। सार्वजनिक स्थान पर कोई भी थूक नहीं सकता है। साथ ही  केवल ऎसे व्यक्ति जिनकाें किसी भी तरह का कोई लक्षण नहीं है  जैसे खांसी, जुकाम , बुखार नहीं है वो ही लोग  प्रवेश कर पायेंगे।  इसके लिए थर्मल स्कै्रनिंग की व्यवस्था भी  मंदिर प्रबंधन को करनी होगी। साथ ही पोस्टर लगाकर प्रचार-प्रसार भी मंदिर प्रबंधन की तरफ से ही किया जायेगा। उन्होंने बताया कि मंदिर के आस-पास  जो दुकाने है वहां पर भी सामाजिक दूरी की पालना  किया जाना जरूरी होगा। मूर्ति को या  कोई विशेष स्थान को जहां ज्यादातर लोग छूते है उसकों छुऎंगे नहीं व प्रसाद, जल वितरण , घंटी बजाना वर्जित रहेगा। उन्होंने बताया कि लंगर, प्रसाद के लिए जो जगह होती है सामुदायिक भवन में एक जगह बहुत से व्यक्तियों को भोजन  करवाया जाता है वो नहीं किया जायेगा। साथ ही लगातार उस परिसर और मंदिर के क्षेत्र को सैनेटाईजर करना होगा। फेस मास्क कवर, ग्लबज का नियमित रूप से डिस्पोजल भी प्रबंधन की तरफ से किया जायेगा। यदि  कोई व्यक्ति वहां पर बीमार आता है तो उसको तत्काल आईसोलेट करने के लिए आइसोलेशन की भी व्यवस्था करनी होगी, चिकित्सा सुविधाएं की व्यवस्था भी करनी होंगी। इसके संबंध में मंदिर प्रबंधन को बताया गया है।  बैठक में खाटूश्याम मंदिर प्रबंधन ने कहा कि पहले हम 30 सितम्बर 2020  यह सब तैयारियां करेंगे इसके बाद ही मंदिर में दर्शन की व्यवस्था कर पायेंगे तथा उसके बाद ही मंदिर को आम दर्शनार्थियों के लिए  खोलने की व्यवस्था करेंगे। इसी तरह से जीणमाता जी मंदिर प्रबंधन ने कहा कि 15 सितम्बर 2020 तक राज्य सरकार की गाईड लाईन के अनुसार हमारी पूरी तैयारिया करेंगे उसके बाद ही हम श्रृदालुओं के लिए दर्शन की व्यवस्था कर पायेंगे।  दोनों ही मंदिर प्रंबंधकों ने कहा कि ऑनलाईन रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था के लिए हम प्रयास कर रहे है जिसकी जानकारी  तीन-चार दिनों में श्रृदालुओं के लिए जारी की जायेगी। एडीएम जयप्रकाश ने बताया कि मंगलवार को जिले के शाकम्भरी मंदिर के पुजारी एवं सीकर शहर के मंदिर ,मस्जिदों के प्रबंधकों से धार्मिक स्थलों को खोले जाने के संबंध में चर्चा की जाएगी।

Featured post

7 तारीख बाद धार्मिक स्थलों को लेकर गाइडलाइन जारी

अतिरिक्त जिला कलेक्टर जयप्रकाश ने बताया कि भारत सरकार की गाईड लाईन जारी होने के बाद गृह विभाग राजस्थान सरकार द्वारा भी गाईड लाईन जारी की गई ...

/fa-clock-o/ WEEK TRENDING$type=list