ममता की बजाय पीएम ने राज्यपाल से ली 'फोनी' की जानकारी, टीएमसी बोली- मोदी देश के संघीय ढांचे का सम्मान नहीं करते

तृणमूल कांग्रेस ने चक्रवात फोनी के चलते जमीनी हालात की जानकारी लेने के लिए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की बजाय पश्चिम बंगाल के राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी से बात करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना की। टीएमसी ने आरोप लगाया कि मोदी देश के संघीय ढांचे का सम्मान नहीं करते हैं।
तृणमूल कांग्रेस महासचिव पार्थ चटर्जी ने कहा, ''यह संघीय ढांचे पर हमला है और संविधान से विचलन है. राज्यपाल को फोन करके उन्होंने बीजेपी के नेता के रूप में कार्य किया है और देश के प्रधानमंत्री के रूप में नहीं। वह हमारे लोगों के जनादेश को कैसे नकार सकते हैं? ममता बनर्जी बंगाल की निर्वाचित मुख्यमंत्री है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है।''
तृणमूल के एक अन्य वरिष्ठ नेता ने कहा, ''प्रधानमंत्री ने जमीनी हालात की जानकारी लेने के लिए राज्यपाल को फोन किया, इससे हमें कोई समस्या नहीं है। लेकिन केवल मुख्यमंत्री और प्रदेश सरकार के अधिकारी ही उन्हें जमीनी स्तर की असली तस्वीर बता सकते हैं।'' उन्होंने कहा कि यह केवल दर्शाता है कि प्रधानमंत्री की नजर में इस देश के संघीय ढांचे के लिए कोई सम्मान नहीं है।

No comments:

Featured post

तारपुरा में ग्रामीण फुटबॉल प्रतियोगिता के उद्घाटन सत्र की शुरुआत

       आज तारपुरा गांव में मां मनसा माता फुटबॉल क्लब द्वारा द्वितीय ग्रामीण फुटबॉल प्रतियोगिता के उद्घाटन सत्र की शुरुआत थोरासि और जेठी ...

/fa-clock-o/ WEEK TRENDING$type=list