सीकर भास्कर प्रिंट मीडिया की पोल खुली

सीकर भास्कर प्रिंट मीडिया की पोल खुली जो कि हम आपको बार बार बोल रहे थे...
शर्मनाक 裸
विभाग के आला अधिकारियों के निर्देशो की पालना में राज्य स्तर के सभी अधिकारी प्रदेश के चिकित्सालयों के निर्धारित तीन दिवसीय निरीक्षण हेतु गए थे।
इसी दौरान सीकर के एक अस्पताल में यह निंदनीय घटना सामने आई है।
इसी क्रम में एक चिकित्सक का ऐसा अभद्र व्यवहार सामने आया है। हम इसकी निंदा करते हैं।
लेकिन साथ ही हम दैनिक भास्कर अखबार की झोलाछाप पत्रकारिता की निंदा भी करते हैं क्योंकि झाड़ू लेकर मारने के लिए पीछे दौड़ने एवं जेडी द्वारा भागकर जान बचाने जैसी कोई घटना नहीं हुई, यह केवल खबर को चटपटा मात्र बनाने के लिए अखबार का प्रोपेगैंडा है। 

No comments:

Featured post

कही बारिश से चेहरे खिले तो कही ओलो की मार से चेहरों पर सितम छाया

सीकर. राजस्थान के सीकर जिले में सोमवार दोपहर को मौसम का मिजाज फिर बदल गया। सीकर शहर व लोसल सहित जिले के कई इलाकों में अचानक तेज बरसात शुरू ह...

/fa-clock-o/ WEEK TRENDING$type=list