दादिया शमशान भूमि पर पर्यावरण प्रेमियों ने किया पौधरोपण




यूुवा जमकर कर रहे हैं वृक्षारोपण प्रकृति से प्रेम और पर्यावरण बचाओ का दे रहे संदेश
सीकर जिले के दादिया गांव की सावर्जनिक शमशान भूमि पर दादिया ग्रामवासियों के द्वारा वृक्षरोपण किया गया। पौधा-रोपण कार्यक्रम मे दादिया सरपंच भवानी शंकर, पूर्व सरपंच मोहन लाल, समाजसेवी ब्रजसुन्दर आर्य,फाइक हुसैन,फुलदास स्वामी,लईकअहमद,केसर देव, दिनेश सैन, भागीरथ मील, पंकज शर्मा, झाबर सिंह सहित युवाओं ने हजारों की संख्या में वृक्षारोपण किया।
समाजसेवी ब्रजसुन्दर आर्य ने बताया कि एक पौधा एक सेल्फी अभियान के तहत पौधे लगाए। वास्तव में मन को बड़ा सुकून मिलता है जब हम पौधरोपण करते हैं,और उससे भी ज्यादा सुकून तब मिलता है जब वह पौधा बड़ा होता है। हम उसकी छांव में बैठकर औरों को यह कहते हैं कि यह हमारे द्वारा लगाया गया है।ब्रजसुन्दर आर्य कहा कि युवा वर्ग ज्यादा से ज्यादा तादाद में पौधारोपण करें ताकि आने वाले पीढ़ी को हम भी कुछ देकर जा सके।

दादिया श्मशान भूमि पर कल होगा पौधरोपण


दादिया गाँव में कल शमशान भूमि पर ग्रामवासियों के द्वारा पौधरोपण किया जायेगा।समाजसेवी ब्रजसुन्दर आर्य ने बताया कि आज शायद हर इंसान को समझने की आवश्यकता है क्योंकि हमारे जीवन की जो सबसे मुख्य धारा है वह है शुद्ध ऑक्सीजन ओर बगैर ऑक्सीजन के इंसान पल भर भी नहीं जी सकता यह जानने के बाद भी पता नहीं हम पेड़ पौधों से क्यों दूरियां बनाए जा रहे हैं किसी जमाने में हमारे बुजुर्ग सेठ साहूकार पेड़ लगाते थे जिनकी छाया के नीचे हम आज भी बैठते हैं और उस पेड़ से ऑक्सीजन हम प्रतिदिन ग्रहण करते हैं क्या हमने कभी सोचा है हमारे बुजुर्ग जो चीज हमें देकर गए थे क्या हम हमारी आने वाली पीढ़ी को कुछ दे पाएंगे आज हालात यह है कि पेड़ों की अंधाधुंध कटाई आम लोगों का पेड़ पौधों के प्रति मोहभंग  का नतीजा है कि भारत में भी तापमान 55 डिग्री तक चला गया है अगर आने वाले 5 साल में यही हाल रहे तो हम कल्पना भी नहीं कर पाएंगे कि हम कौन से स्तर पर होंगे अगर हर इंसान अपने जीवन में एक पेड़ भी लगाएं तो यह मात्रा बहुत ज्यादा होती है लेकिन  हमारा प्रयास होना चाहिए कि हम हर बार बारिश के मौसम में एक पेड़ जरूर लगाएं और उसकी रखवाली भी करें।
प्रोत्साहन के लिए खबरि बाबू के कॉमेंट बॉक्स में उसके साथ लिया हुआ फोटो  अपलोड करें ताकि हमें देख कर अन्य लोग भी प्रोत्साहन हो।
अतः आप इस महोत्सव में भाग लेने के लिए कल गुरुवार सुबह आठ बजे दादिया श्मशान भूमि पर पहुंचे।

क्या अंजना ओम कश्यप ने प्रेमी जोड़े का इंटरव्यू नहीं बल्कि एक पिता की इज्जत का बलात्कार किया है!

विधायक की बेटी घर से भागकर शादी करने का मामला
एक न्यूज चैनल अपने आप को पॉपुलर करने के लिए एक बाप को इतना मजबूर कर सकता है?
देश में बहुत मुद्दे हैं लेकिन एक परिवार को टॉर्चर कितना सही!!

ऑनलाइन ठगी का शिकार हुआ लक्ष्मणगढ़ का जुल्फिकार

ऑनलाइन ठगी का शिकार हुआ युवक
प्राप्त जानकारी के अनुसार लक्ष्मनगढ कस्बे के रहने वाले जुल्फिकार पुत्र गुलाम मुस्तफा क़ाज़ी के पास एक कॉल आया।जिसमें बताया गया कि आपके जियो नम्बर को लक्की ड्रा में चुना गया है,जिसमें बताया गया कि आपको पच्चीस लाख रुपए की राशि ईनाम दिया जाएगा।उक्त व्यक्ति को बताया गया कि सर्विस टैक्स के 80,000 रुपए आपको पहले जमा करवाने होंगे।पीड़ित व्यक्ति ने कहने के मुताबिक रुपए अस्सी हजार जमा भी करवा दिए।
उसके बाद वहां से कोई जवाब नहीं आया व मोबाइल बन्द है।।।

मेघा सोनी के हत्यारों को फांसी की मांग को लेकर महिला सशक्तिकरण की टीम ने सौंपा एसडीएम को ज्ञापन..

मेघा सोनी के हत्यारों को फांसी की मांग को लेकर महिला सशक्तिकरण की टीम ने सौंपा एसडीएम को ज्ञापन..
फतेहपुर शेखावाटी पिछले महीने फतेहपुर की लाडो मेघा सोनी की उसके ससुराल डूंगरगढ़ में छत से गिरकर मौत के मामले को लेकर पीहर पक्ष ने ससुराल वालों पर छत से धक्का देकर गिरा कर हत्या करने का मामला दर्ज करवाया था जिसको लेकर पुलिस के ढीले रवैए के खिलाफ फतेहपुर की महिला सशक्तिकरण की सदस्यों ने गुरुवार को उपखंड अधिकारी रेणु मीणा को ज्ञापन सौंपा ज्ञापन में मांग की गई कि केस की जांच कर रहे जांच अधिकारी बदला जाए एफ आई आर में नामजद सभी आरोपियों की तुरंत गिरफ्तारी हो हत्यारों को फांसी की सजा हो तथा पूरे प्रदेश भर में हो रहे महिलाओं के खिलाफ अत्याचारों के लिए अलग से कानून बने इसके साथ ही मेघा सोनी की मां ने एसडीएम को एक अन्य ज्ञापन सौंपा जिसमें बताया कि मेरी पुत्री मेघा सोनी की ननद के ससुर जो कि फतेहपुर में ही रहते हैं उनके द्वारा मुकदमे से नाम वापस लेने तथा ऐसा नहीं करने पर मेरे तथा मेरे परिवार जन को जान से मारने की धमकी दी जा रही है ऐसे में इनके खिलाफ तुरंत कार्रवाई करने के लिए ज्ञापन सौंपा इस दौरान मीनाक्षी पाराशर अनिता बियानी दीपिका भारद्वाज सरला गोयंका ज्योति राठौड़ विजयलक्ष्मी मालू दिव्या लालवानी रेनू ख्याल अंजू भोजक  सरिता सोनी संगीता बियानी मंजू सोनी उपस्थित रहे।


राव राजा कल्याण सिंह बने राजनीति के शिकार...दो जगह मनाई गई राजाजी की जयंती

राव राजा कल्याण सिंह की जयंती पर सीकर बना राजनीति का अखाड़ा
सीकर शहर के अंतिम शासक राव राजा कल्याण सिंह  की 133 वी जयंती मनाने का कार्यक्रम दो जगह पर आयोजित किया गया।एक तरफ जहां सर्व समाज के लोग जैन भवन सीकर में उपस्थित थे जहां पर राजस्थान के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा,भाजपा के पूर्व विधायक रतन लाल जलधारी,जितेंद्र सिंह कारंगा सहित परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास भी कार्यक्रम में उपस्थित थे साथ ही कार्यक्रम बिना किसी राजनीतिक देश के देश के उद्देश्य के किया जा रहा था,वहीं दूसरी तरफ कार्यक्रम का आयोजन समाज के ठेकेदारों के द्वारा आयोजित किया गया था जो आरोप लग रहे हैं वह आरोप यह है कि कुछ समाज के ठेकेदार सर्व समाज को छोड़कर राव राजा कल्याण सिंह को राजनीति का अड्डा बनाना चाह रहे हैं जो आयोजन प्रधान जी के जाव में आयोजित किया गया जो कि बायस्कोप सिनेमा के पीछे स्थित है इस जगह पर एंकर महोदय भी बार-बार मायक खींचते दिखाई दिए यहां पर उमेद सिंह करेरी,उदयपुरवाटी विधायक राजेंद्र सिंह गुड्डा, राजेन्द्र मधुकर सहित सिर्फ राजपूत समाज के लोग ही मंच पर उपस्थित थे। इससे बड़ी सीकर शहर के लिए शर्म की ओर क्या बात हो सकती है की सीकर शहर के अंतिम शासक अपनी जयंती को लेकर राजनीति का शिकार हो चुके हैं।

विश्व पर्यावरण दिवस पर हरीतिमा ग्रुप ने लगाए हजारों पेड़

विश्व पर्यावरण दिवस पर हरीतिमा ग्रुप ने लगाए हजारो पेड़
सालों से लगातार बरगद  पीपल नीम  सहित अन्य छायादार  पेड़ राज्य के तकरीबन 8 जिलों के 70 गांव  में  लगभग 10,000  पेड़ लगा चुकी है हरीतिमा ग्रुप की अध्यक्ष शिल्पा चौकड़ीका
सीकर के वरिष्ठ पत्रकार राजेंद्र मधुकर  ने बताया कि हरीतिमा ग्रुप 1000 से ज्यादा पेड़  लगा चुका हैं  जिनमें से बहुत से पेड़ों ने तो विशालकाय रूप  ले लिया है  और सबसे बड़ी बात यह है कि इन लगाए हुए पेड़ों में पानी भी यह खुद ही डालते हैं अब तक जितने भी पेड़ इन्होने लगाए हैं  वह सारे पेड़ अपने पैसों से ही  लगाए हैं।

Featured post

दादिया शमशान भूमि पर पर्यावरण प्रेमियों ने किया पौधरोपण

यूुवा जमकर कर रहे हैं वृक्षारोपण प्रकृति से प्रेम और पर्यावरण बचाओ का दे रहे संदेश सीकर जिले के दादिया गांव की सावर्जनिक शमश...

/fa-clock-o/ WEEK TRENDING$type=list